Narayan Prasad Bungकांग्रेसछत्तीसगढ़बाज़ारबिज़नेसमुख्यमंत्रीराज्यरायपुर शहर
Trending

छत्तीसगढ़- पेट्रोल-डीजल पर वैट की दरें कम हो सकती हैं, संकेत के बाद ज्यादातर पंप हुए ड्राई, बचा स्टॉक बेचने के बाद पंप मालिक नहीं मंगा रहे नया स्टॉक?

newsmrl.com In Chhattisgarh, VAT rates on petrol and diesel may be reduced, after indicating that most of the pumps are dry, after selling the remaining stock, the pump owners are not asking for new stock? update by Narayan Bung

Order No. 0356#RPR

छत्तीसगढ़ में वैट कम करने को लेकर जीएसटी मंत्री टीएस सिंहदेव का बयान सामने आया है।

केंद्र सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी कम करने के बाद कई राज्य सरकारों ने वैट कम करने की घोषणा कर दी है। इस बीच रायपुर: स्वास्थ्य एवं GST मंत्री टीएस सिंहदेव का बयान सामने आया है। उन्होंने संकेत दिया है कि छत्तीसगढ़ में पेट्रोल-डीजल पर वैट की दरें कम हो सकती हैं। जीएसटी विभाग द्वारा इसके लिए प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। यह प्रस्ताव मुख्यमंत्री को भेजा जाएगा। जीएसटी मंत्री ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी कम कर राज्यों के साथ होशियारी कर रही है और उनकी अनदेखी करने लगी है।

खैरागढ़ रवाना होने से पहले पत्रकारों से चर्चा में उन्होंने कहा कि राज्य में अभी 25 प्रतिशत वैट लगता है। पेट्रोल और डीजल पर एक-दो रुपए अतिरिक्त लगता है।

एक्साइज कम करने से इसकी दर कम हो चुकी है, अब देखते हैं कि इसमें और क्या कमी की जा सकती है। विभाग की ओर से प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। वैसे भी राज्य को मिलने वाली आय केंद्र ने पहले ही कम कर दी है।

केंद्र सरकार एक्साइज ड्यूटी कम कर राज्यों के साथ होशियारी कर रही है। पेट्रोल-डीजल में केंद्र एक्साइज के साथ-साथ अतिरिक्त सेस भी ले रही है। बहुत बड़ी राशि केंद्रीय पूल पर एकत्रित कर रही है। सेस की राशि राज्यों के साथ नहीं बांटी जाती। केंद्र से राज्यों को जो 41-42 प्रतिशत की राशि मिलती है, उसमें कटौती की गई। इससे राज्यों की आमदनी को भी कम कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: