newsmrlअंबिकापुरक्राइमछत्तीसगढ़
Trending

NGO का फर्जीवाड़ा सरकार से 10 लाख लेकर पहाड़ी कोरवा युवकों को ट्रेनिंग की जगह समोसा खिलाया

newsmrl.com The NGO's fraudulently fed samosas and gave certificates to the hill Korwa youths instead of training them by taking the government payment of 10 lakhs. update by mamta sharma

Order No. 0356#RPR

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले का लुंड्रा ब्लॉक। यहां पहाड़ी आदिवासी कोरवा को ड्राइविंग की ट्रेनिंग दी जानी थी। इसके लिए उन्हें गाड़ी की ड्राइविंग सीट पर बिठाया गया, फोटो ली गई और फिर समोसा खिलाकर घर भेज दिया

इस ट्रेनिंग के पूरा होने पर बकायदा उन्हें ड्राइविंग का सर्टिफिकेट भी थमा दिया गया। मीडिया में खबर प्रकाशित होने के बाद आदिवासी युवकों ने इसकी शिकायत की तो सारा मामला सामने आया। अब उसे दबाने के लिए युवकों को 30 हजार रुपए का लालच दिया जा रहा है।


पूर्व मंत्री गणेश राम भगत ने इस मामले में आदिवासी आयुक्त और जनपद सीईओ के अलावा केस दर्ज करने की मांग की है। इस संबंध में उन्होंने SP से भी बात की। साथ ही चेतावनी दी है कि 10 दिन में कार्रवाई नहीं हुई दोषियों पर तो वह धरना-प्रदर्शन करेंगे। विशेष पिछडी जनजाति के अध्यक्ष उदय पंडो ने कहा कि प्रशिक्षण के नाम पर आदिवासी पहाड़ी कोरवा को ठगा जा रहा है। यह पूरी फर्जीवाड़ा है। इस तरह से विशेष जनजाति के लोग आगे नहीं बढ़ेंगे। सरकार योजना बना रही है, यह लोग पैसा खा रहे हैं।


दरअसल, पहाड़ी कोरवा युवकों को ड्राइविंग ट्रेनिंग के नाम पर लुंड्रा जनपद की ओर से 10 लाख का भुगतान एक समाजसेवी संस्था को किया गया था। संस्था ने ट्रेनिंग देने की जगह सिर्फ खानापूर्ति की और सर्टीफिकेट दे दिया। फर्जीवाड़ा सामने आने के बाद सर्व विशेष पिछडी जनजाति के अध्यक्ष उदय पंडो कोरवा युवकों से मिलने और बातचीत करने के लिए गांव पहुंच गए। वहां उन्हें बताया गया कि मामले को दबाने के लिए 30 हजार रुपए लेने का दबाव उनके ऊपर बनाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: