अंतर्राष्ट्रीयअमेरिकाआपदाएशियाक्राइमभारतराजनीतिरिहान इब्राहिम मुंबई/अंतरराष्ट्रीयवर्ल्डहादसा
Trending

तालिबान आतंकवादी अगले 30 से 90 दिन में अफगानिस्‍तान पर कब्‍जा कर सकते हैं

newsmrl.com Taliban terrorists can occupy Afghanistan in next 30 to 90 days update by Rihan Ibrahim

अमेरिकी खुलासे के बाद अफगानिस्‍तान की अशरफ गनी सरकार में हड़कंप मच गया है

तालिबान आतंकी अफगानिस्‍तान के 65 फीसदी हिस्‍से पर कब्‍जा करने के बाद अब राजधानी काबुल की ओर बढ़ रहे हैं। इस बीच अफगानिस्‍तान की सरकार ने उन्‍हें मात देने के लिए एक मास्‍टरप्‍लान बनाया है।
अमेरिकी खुफिया एजेंसियों ने चेतावनी दी है कि तालिबान आतंकवादी अगले 30 से 90 दिन में अफगानिस्‍तान पर कब्‍जा कर सकते हैं। इस खुलासे के बाद अफगानिस्‍तान की अशरफ गनी सरकार में हड़कंप मच गया है। तालिबान की बढ़त का आलम यह है कि वह अब तक देश के 65 फीसदी हिस्‍से पर कब्‍जा कर चुका है। तालिबान को मात देने के लिए अफगान सरकार ने तीन चरणों वाला मास्‍टर प्‍लान बनाया है।

अफगानिस्‍तान के गृहमंत्री जनरल अब्‍दुल सत्‍तार मिर्जाकवाल ने बुधवार को अलजजीरा को बताया कि सरकार स्‍थानीय समूहों को हथियारबंद कर रही है ताकि तालिबान को पीछे ढकेला जा सके। उन्‍होंने कहा कि तालिबान के 9 प्रांतों पर कब्‍जा करने के बाद अफगान सेना हाइवे, बड़े शहरों और सीमा क्रॉसिंग को सुरक्षित बनाने का प्रयास कर रही है। मिर्जाकवाल ने हाल ही में देश की 1,30,000 की पुलिस फोर्स के प्रमुख बने हैं।

‘हमारे पास बहुत सीमित हवाई समर्थन’
अफगान नेता ने कहा क‍ि अमेरिकी सैन‍िकों की वापसी के बाद देश के 400 इलाकों में जोरदार जंग शुरू हो गई। उन्‍होंने कहा, ‘हमारे पास बहुत सीमित हवाई समर्थन है। हेलिकॉप्‍टर का इस्‍तेमाल सामान को ले जाने और घायलों को निकालने के लिए किया जा रहा है। मिर्जाकवाल ने कहा कि केंद्र सरकार स्‍थानीय नेताओं को यह ताकत दे रही है कि वे अपने समुदाय के अंदर के लोगों को तालिबान के खिलाफ जंग के लिए भर्ती करें। इन लोगों ने अफगान राष्‍ट्रपति और सरकार में पूरा समर्थन जताया है। बाद में इन्‍हें अफगान सेना में शामिल कर लिया जाएगा।

स्‍थानीय मिलिशिया को समर्थन दे रही सरकार
अफगान गृहमंत्री ने कहा कि सरकार अब स्‍थानीय वॉलंटियर मिलिशिया को समर्थन दे रही है जिसे ‘अपराइजिंग मूवमेंट’ कहा जा रहा है। उन्‍होंने कहा, ‘हम तीन चरणों में काम कर रहे हैं। पहले चरण में सरकारी सैनिकों की हार को रोकना है। दूसरे चरण में सैनिकों को फिर से इकट्ठा करना है ताकि उनकी मदद से शहरों के आसपास सुरक्षा घेरा तैयार किया जा सके।’ उन्‍होंने बताया कि जो सुरक्षाकर्मी अपनी पोस्‍ट छोड़कर चले गए हैं, हमें उन्‍हें वहां पर वापस ला रहे हैं।

मिर्जाकवाल ने कहा कि इसके बाद तीसरा चरण शुरू होगा जिसमें तालिबान के खिलाफ आक्रामक कार्रवाई शुरू की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि इस समय हम दूसरे चरण की ओर बढ़ रहे हैं। अफगान गृहमंत्री का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब देश में तालिबान आतंकी बहुत तेजी से काबुल की ओर बढ़ रहे हैं। अभी उनके निशाने पर मजार-ए-शरीफ आ गया है। मिर्जाकवाल ने कहा कि सरकार की हार की बड़ी वजह सड़कों और हाइवे पर से नियंत्रण को खो देना रहा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: