अंतर्राष्ट्रीयअफ़्रीकाअमेरिकाएशियाखेलचीनप्रमुख शहरभारतमुंबईयूरोपरिहान इब्राहिम मुंबई/अंतरराष्ट्रीयसक्सेस स्टोरीसेलिब्रिटी इंटरव्यूसेलिब्रिटी न्यूज़
Trending

घर लौटे देश के ओलंपिक विजेताओं का दिल्ली में स्वागत, नीरज बोले- ये गोल्ड मेडल पूरे इंडिया का है।

newsmrl.com The Olympic winners of the country who returned home were welcomed in Delhi, Neeraj said - this gold medal belongs to the whole of India. update by Rihan Ibrahim

ओलिपिंक पद विजेताओं का दिल्ली के अशोक होटल में भव्य स्वागत किया गया। स्वर्ण पदक जीतने वाले नीरज चोपड़ा, रजत पदक जीतने वाले रवि दहिया, कांस्य पदक जीतने वाले बजरंग पुनिया समेत अन्य खिलाड़ियों के सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

स्वदेश लौटने पर ओलिंपिक पदक विजेताओं को सोमवार को सम्मानित किया गया। सरकार की ओर से आयोजित भव्य स्वागत समारोह में खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि इन खिलाड़ियों की यात्रा ‘खेल उत्कृष्टता और जज्बे की अविश्वसनीय कहानी’ रही है। एक पांच सितारा होटल में आयोजित समारोह में सभी की निगाहें एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक जीतने वाले देश के पहले खिलाड़ी नीरज चोपड़ा पर टिकी थीं।

सम्मान समारोह में खेल मंत्री ने उन्हें स्मृति चिन्ह और शॉल भेंट की। कांस्य विजेता पुरुष हॉकी टीम और चौथे स्थान पर रही महिला टीम दोनों ने होटल पहुंचने के बाद केक काटकर जश्न मनाया। चोपड़ा ने सम्मानित होने के बाद कहा, ‘हम सभी (खिलाड़ी) मध्यमवर्गीय परिवारों से आते हैं और परिवारों का समर्थन आवश्यक है।’

आप सबकी दुआएं साथ थीं….
कार्यक्रम में नीरज चोपड़ा ने कहा, ‘समर्थन के लिए सभी का शुक्रिया। यह मेडल मेरा नहीं पूरे इंडिया का है। जब से मेडल जीता है, मैं ठीक से सो नहीं पाया, खा नहीं पाया, लेकिन जब मेडल निकालकर देखता हूं तो लगता है कि सब ठीक है, कोई दिक्कत नहीं।’ उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे लगा कि ये मेरे लाइफ का सबसे तगड़ा मौका है, मैं कभी नहीं छोड़ूंगा, अपने प्रतिद्वंद्वी को देखकर घबराना नहीं चाहिए। मुझे दूसरा थ्रो फेंककर अंदाजा लग गया था कि यह अच्छा गया है। आप सब की दुआएं थी। बहुत अच्छा लग रहा है। आगे और मेहनत करूंगा। मेहनत करके आगे और भी मेडल जीतूंगा’

सिंधु और चानू समारोह में शामिल नहीं हुईं क्योंकि वे पहले ही भारत पहुंच गई थीं और उनके सम्मान में समारोह आयोजित हो गया था। घुटना चोटिल होने के बाद बिना ‘नी-कैप (घुटने की पट्टी)’ के कांस्य पदक मुकाबले में उतरने वाले बजरंग ने कहा, ‘मैंने केवल अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की।’

पुरुष हॉकी टीम के अलावा मुक्केबाज लवलीना बोरगोहेन, शटलर पीवी सिंधु और पहलवान बजरंग पुनिया ने कांस्य पदक हासिल किए। लवलीना ने कहा, ‘मैं घर वापस आकर बहुत खुश हूं। मुझे पता था कि भारत में लोग बहुत खुश होंगे लेकिन यहां वापस आने के बाद पहली बार इतना प्यार पाकर बहुत अच्छा लग रहा है। मैं इस तरह के और पदकों के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगी

इस अवसर पर खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘ये शाम ओलंपिक में भारत का नाम बढ़ाने वाले खिलाड़ियों की शाम है। मैं सभी पदक विजेताओं को 135 करोड़ लोगों की तरफ़ से बधाई देता हूं। नीरज चोपड़ा आपने मेडल ही नहीं दिल भी जीता है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘नीरज चोपड़ा, बजरंग पुनिया, लवलीना से लेकर अन्य खिलाड़ी सभी हमारे नए हीरो हैं। हम यह सुनिश्चित करेंगे कि उन्हें कोई हर तरह की सुविधा दी जाए।’

तोक्यो ओलिंपिक में भारतीय खिलाड़ियों ने 1 गोल्ड, 2 रजत समेत कुल 7 पदक जीते हैं। इसके अलावा भी कई खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन आखिरी मौके पर पदक से चूक गए थे।

इससे पहले खिलाड़ियों के स्वागत में बड़ी संख्या में फैन्स एयरपोर्ट पर जमे थे। बाद में खिलाड़ियों को दिल्ली के अशोक होटल ले जाया गया, जहां उनके लिए सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। अशोक होटल में भारतीय महिला और पुरुष हॉकी टीम ने केक काटकर ओलिंपिक में अच्छे प्रदर्शन का जश्न मनाया। वहीं पहलवान रवि दहिया, बजरंग पुनिया समेत अन्य खिलाड़ी भी अपने समर्थकों के काफिले के साथ अशोक होटल पहुंचे।

तोक्यो ओलिंपिक में स्वर्ण पदक जीतने वाले नीरज चोपड़ा, रजत पदक जीतने वाले रवि दहिया, कांस्य पदक जीतने वाले बजरंग पुनिया और भारतीय हॉकी टीम का स्वदेश वापसी पर भव्य स्वागत किया गया। इस कार्यक्रम में खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, पूर्व खेल मंत्री किरण रिजिजू, खेल राज्य मंत्री निसिथ प्रमाणिक के अलावा विभिन्न खेल संगठनों के कई पदाधिकारी भी मौजूद रहे। कार्यक्रम के लिए होटल की लॉबी को फूलों से सजाया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: