उत्तर प्रदेशकरन रॉय UP/BIHAR/UK/JHक्राइमहादसा

नशे में चूर दूल्हा घोड़ी पर बैठते वक्त कई बार गिरा, शराबी दूल्हे की हालत देख कर दुल्हन ने शादी से किया इनकार।

newsmrl The drunk groom fell several times while sitting on the mare, seeing the condition of the drunken groom, the bride refused to marry. updated by karan roy

शाहजहांपुर जिले के शहर के सदर बाजार स्थित एक मैरिज लॉन में गुरुवार को एक विवाह समारोह था, लेकिन शराब के नशे में चूर दूल्हा बारात चढ़ने के वक्त घोड़ी पर बैठते वक्त कई बार गिरा,

शराबी दूल्हे की हालत देख कर दुल्हन ने शादी से इनकार कर दिया। पूरी रात विवाद होता रहा, इसके बाद मामला पुलिस तक पहुंचा। बाद में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे का सामान वापस कर दिया। दूल्हा बिन दुल्हन बारात लेकर वापस चला गया। लड़की बोली, जिंदगी खराब होने से बच गई।

खुटार निवासी लड़की अपने परिवार वालों के साथ बस से गुरुवार को विवाह के लिए शाहजहांपुर के सदर बाजार स्थित एक मैरिज लॉन में आई थी। शाम को सुभाषनगर से दूल्हा भी बैंड-बाजा बारात के साथ मैरिज लान पहुंचा। यहां द्वाराचार के लिए बारात चढ़ने को थी। दूल्हे को घोड़ी पर बैठना था, लेकिन दूल्हा शराब के नशे में इतना चूर था कि वह घोड़ी पर बैठ नहीं पा रहा था, कई बार गिरा भी। तब यह बात दुल्हन तक पहुंची। दूल्हे को नशे में लड़खड़ाते हुए देख कर दुल्हन का पारा हाई हो गया।

दुल्हन ने कहा, जो व्यक्ति अपनी शादी के दिन इतनी शराब पिए है कि उसे होश नहीं है तो वह उसकी जिंदगी की खराब कर देगा। लड़की ने कह दिया कि वह इस शराबी से शादी नहीं करेगी। दुल्हन द्वारा शादी से इनकार किए जाने के ऐलान के बाद हड़कंप मचा गया, लेकिन किसी तरह से दोनों पक्षों ने मिलकर मामले को शांत करा लिया। फिर बारात चढ़ी, द्वाराचार हुआ, इसके बाद लड़खड़ाते हुए स्टेज पर पहुंचे दूल्हे ने दुल्हन के गले में माला भी डाली। बारातियों ने खाना खाया। 

इसके बाद बचे केवल लड़की और लड़के वाले। दुल्हन का मूड बहुत खराब हो चुका था, उसने अपने परिजनों को साफ कह दिया कि वह शराबी से शादी नहीं कर सकती। लड़की के फैसले पर उसके परिजनों ने भी सहमति देकर लड़के वालों से नमस्ते कर ली। लड़के वाले दबाव बनाने लगे तब लड़की वालों ने 112 नंबर डायल कर पुलिस बुला ली। विवाह की आगे की रस्में रोक दी गईं। 

शुक्रवार सुबह उस्मानबाग पुलिस चौकी में दोनों पक्षों की बात पुलिस ने सुनी। फिर यह तय हुआ कि एक-दूसरे को दिया गया सामान दोनों पक्ष वापस कर दें। दूल्हा अपने घर जाए और दुल्हन अपने घर जाए। इस बात पर समझौता हो गया। इंस्पेक्टर अशोक पाल ने बताया कि मुकदमा दर्ज कराने को लड़की वाले तैयार नहीं थे, समझौते पर राजी होकर वह चले गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: