करन रॉय UP/BIHAR/UK/JHटीएमसीप्रधानमंत्रीभाजपामुख्यमंत्रीराजनीति
Trending

बंगाल में BJP के लिए कुछ भी ठीक नहीं, अब MP सुनील मंडल बोले-

newsmrl.com Nothing is right for BJP in Bengal, now MP Sunil Mandal said- update by karan Roy

कोलकाता़ पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में हार के बाद से ही बीजेपी के लिए मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं।

एक-एक करके पार्टी के बड़े नेताओं की टीएमसी में घर वापसी ने बीजेपी के लिए बड़ी मुसीबत खड़ी कर दी है। यहीं नहीं, एक दिन पहले ही बीजेपी एमएलए सुवेंदु अधिकारी राजभवन में राज्यपाल से मिलने गए तो उनके साथ 77 में से सिर्फ 51 विधायक ही थे। इस बीच, विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए सांसद सुनील मंडल के बयान ने बीजेपी की धड़कने तेज कर दी हैं।

‘कुछ लोग सोचते हैं कि पार्टी में नए लोगों पर भरोसा करना सही नहीं’
सुनील मंडल के बयान से साफ है बीजेपी में सबकुछ ठीक नहीं है और आने वाले दिनों में राज्य की राजनीति में कुछ बड़ी उठापठक होने का अंदेशा साफ लगाया जा सकता है। सुनील मंडल ने यहां तक कह दिया कि ‘कुछ लोग सोचते हैं कि पार्टी में नए लोगों पर भरोसा करना सही नहीं है।’

बीजेपी में असहज महसूस कर रहे कई नेता: सुनील मंडल
दरअसल विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी का भगवा झंडा थामने वाले सांसद सुनील मंडल ने कहा है कि टीएमसी छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वालों में से कई नेता यहां असहज महसूस कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें पार्टी में दिल से स्वीकार नहीं किया गया है।

77 में से कुल 51 विधायकों को ही राजभवन ले जा सके थे सुवेंदु
गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में नेता प्रतिपक्ष सुवेंदु अधिकारी चुनाव परिणामों के घोषित होने के बाद हुई हिंसा के बारे में बात करने के लिए सोमवार को राज्यपाल से मिलने पहुंचे थे। राज्यपाल से मुलाकात के दौरान अधिकारी सिर्फ 51 विधायकों को अपने साथ ले जा सके। शेष 26 विधायक अधिकारी के साथ नहीं गए। इस बात को लेकर अब राजनीतिक चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है। ये वाकया ऐसे वक्त में हुआ है, जब तृणमूल कांग्रेस से बीजेपी में आए तमाम नेताओं की अब टीएमसी में वापसी होने लगी है।

BJP के नेताओं के टीएमसी के संपर्क में होने की खबर
टीएमसी छोड़कर बीजेपी में आए मुकुल रॉय हाल ही में फिर से ममता बनर्जी के साथ हो गए हैं। भारतीय जनता पार्टी के कुछ और नेताओं के टीएमसी के संपर्क में होने की खबरें हैं। ऐसे में इन सब स्थितियों को देखते हुए ये कहा जा रहा है कि ऐसा संभव है कि बीजेपी के कई विधायक जल्द ही तृणमूल कांग्रेस का हिस्सा बन जाएं। हालांकि बीजेपी ऐसी किसी भी बगावत की संभावना से इनकार कर रही है। लेकिन सुवेंदु के साथ ना जाने वाले विधायकों की गैर हाजिरी पर पार्टी ने कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

मुकुल रॉय के टीएमसी के जाने बाद के बाद बीजेपी के कई नेताओं के वापस टीएमसी में शामिल होने की बात कही जा रही है। दरअसल इस हफ्ते की शुरुआत में, टीएमसी के नेता राजीव बनर्जी, जो चुनाव से ठीक पहले बीजेपी में शामिल हुए थे, वह भी कोलकाता में दिलीप घोष की ओर से बुलाई गई एक महत्वपूर्ण बैठक में शामिल नहीं हुए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: