Rihan Ibrahimअसमछत्तीसगढ़जम्मू कश्मीरराजस्थानराज्य
Trending

केरल में 3 जून काे दस्तक देगा मॉनसून, IMD की भविष्यवाणी, जानें कहां-कहां होगी बारिश

newsmrl.com Monsoon will hit Kerala on June 3, IMD predicts, know where it will rain update by rihan Ibrahim

केरल में 3 जून तक मॉनसून दस्‍तक दे सकता है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने यह जानकारी दी है। यह अलग बात है कि निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी Skymet ने मॉनसून के केरल पहुंच जाने की बात कही है। इसके पहले IMD ने 31 मई को मॉनूसन के केरल पहुंचने की भविष्‍यवाणी की थी।
विभाग ने कहा, ‘एक जून से दक्षिण-पश्चिमी हवाएं धीरे-धीरे जोर पकड़ सकती हैं, जिसके चलते केरल में वर्षा संबंधी गतिविधि में तेजी आ सकती है। लिहाजा केरल में तीन जून के आसपास मॉनसून के पहुंचने की उम्मीद है।’

IMD के मुताबिक, इस साल दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के सामान्य रहने की संभावना है। जून से लेकर सितंबर तक बारिश के आसार जताए गए हैं। पिछले महीने एक वर्चुअल ब्रीफिंग में, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के सचिव माधवन राजीवन ने कहा था कि मॉनसून की लंबी अवधि का औसत (LPA) 98 प्रतिशत होगा, जो सामान्य श्रेणी में आता है। LPA 1961-2010 के बीच मॉनसून में हुई बारिश का औसत है जो कि 88 सेंटीमीटर बैठता है। 98% के पूर्वानुमान का मतलब है कि इस साल मॉनसून सीजन के दौरान करीब 86.2 CM बारिश होगी।

अगर 10 मई के बाद, केरल के 14 मौसम केंद्रों पर लगातार दो दिन 2.5 मिलीमीटर या उससे ज्‍यादा की बारिश होती है, तो दूसरे दिन मॉनसून के आने की घोषणा कर दी जाती है। पिछले दिनों यह पैमाना पूरा हो चुका है। हालांकि इसके लिए कुछ और मानकों का पूरा होना भी जरूरी है। जिनमें तय कोऑर्डिनेट्स के बीच हवा की न्‍यूनतम रफ्तार, आउटगोइंग लॉन्‍गवेव रेडिएशन का स्‍तर शामिल हैं।
मॉनसून सीजन तब शुरू होता है जब दक्षिण-पश्चिम मॉनसून पहली बार केरल के दक्षिणी सिरे से टकराता है। वहां से आमतौर पर जून के पहले हफ्ते में और राजस्थान से सितंबर तक पीछे हट जाता है। इस साल मॉनसून के सामान्य रहने की संभावना 40 फीसदी है जबकि 21 फीसदी संभावना सामान्य से ऊपर है। यह लगातार तीसरा साल है, जब IMD ने अच्छी बारिश की भविष्यवाणी की है।

पिछले महीने, निजी मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्‍काईमेट वेदर ने कहा था कि दिल्‍ली में जून के आखिर तक मॉनसून पहुंच सकता है। सितंबर के महीने में दिल्‍ली में अच्‍छी-खासी बारिश हो सकती है। हालांकि बाकी सीजन के दौरान बारिश में ’10-15% की कमी’ का अनुमान है। पिछले साल मॉनसून 30 सितंबर को गया था और बारिश 20% कम रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: