असमआपदाउत्तर प्रदेशउत्तराखंडकेंद्र शासित राज्यकोलकाताकोविड-19गोवाछत्तीसगढ़जम्मू कश्मीरजयपुरदिल्लीनोएडापंजाबफूडबंगालभारतमध्प्रदेशमहाराष्ट्रमुंबईराजस्थानरायपुर शहररिहान इब्राहिम मुंबई/अंतरराष्ट्रीयसेहत
Trending

कोरोना काल में केंद्र ने जारी की हेल्थी फ़ूड की लिस्ट

newsmrl.com govt food guide update by Rihan Ibrahim

कोविड -19 से उबरने वाले लोगों को प्रतिरक्षा और ऊर्जा बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए, केंद्र ने अपने mygovindia ट्विटर हैंडल के जरिए कोविड के बीच प्राकृतिक रूप से प्रतिरक्षा बनाने के लिए खाद्य पदार्थों की एक सूची जारी की है।

स्वाद और गंध का खो जाना कोविड संक्रमण के सामान्य लक्षणों में से एक है। चूंकि इससे भूख में कमी होती है और मरीजों को इस कारण भोजन निगलने में मुश्किल होती है, इससे मांसपेशियों की हानि हो सकती है। दिशानिर्देश में कहा गया है, “थोड़ी-थोड़ी देर पर नरम भोजन करना और भोजन में अमचूर को शामिल करना महत्वपूर्ण है।”

पूरी लिस्ट-

  • -पर्याप्त विटामिन और खनिज प्राप्त करने के लिए रंगीन फलों और सब्जियों का सेवन
  • -चिंता से छुटकारा पाने के लिए कम से कम 70 फीसदी कोको के साथ डार्क चॉकलेट की थोड़ी मात्रा।
  • प्रोटीन के अच्छे स्रोत जैसे चिकन, मछली, ईजी, पनीर, सोया और बीज।
  • अखरोट, बादाम, जैतून का तेल और सरसों के तेल जैसे स्वस्थ वसा।
  • फाइबर- आपको अपने खाने में फाइबर वाला फूड शामिल करना चाहिए. जिसमें रागी या ओटमील नाश्ते में खाने की सलाह दी जा रही है. इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर, विटामिन-बी और कार्ब पाए जाते हैं. ये खाना जल्दी पच जाता है. आप चाहें तो नाश्ते में अंडा भी खा सकते
  • खिचड़ी- मरीजों को डॉक्टर खिचड़ी खाने की सलाह देते हैं. आप दाल, चावल और सब्जियां डालकर खिचड़ी बना सकते हैं. खिचड़ी हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होती है. विशेषज्ञ खिचड़ी को सुपरफूड भी कहते हैं. आपको एक टाइम खिचड़ी जरूर खानी चाहिए.
  • पानी- शरीर के टॉक्सिन बाहर निकलने के लिए खूब सारा पानी पीना चाहिए. आप चाहें तो ओआरएस भी पी सकते हैं. इसके अलावा ग्रीन टी और काढ़ा भी पिएं. कोरोना में जल्द रिकवरी के लिए खूब सारा पानी पीएं. शरीर को हायड्रेट रखना बहुत जरूरी है.

महामारी की दूसरी लहर के बढ़ने के साथ देश में सबसे अधिक दैनिक मामले और एक दिन में रिकॉर्ड मौतें देखी जा रही हैं, बुखार, शरीर में दर्द की शुरुआत से लोगों में दहशत फैल रही है। कोविड -19 से लड़ने के कई अवैज्ञानिक घरेलू उपाय भी सोशल मीडिया पर चल रहे हैं। केंद्र ने दोहराया है कि कोविड के 80 से 85 प्रतिशत संक्रमण को घर पर ही, बिना किसी गंभीर चिकित्सकीय हस्तक्षेप के, उचित पोषण के साथ ठीक किया जाएगा। केंद्र ने सहिष्णुता के अनुसार नियमित शारीरिक गतिविधि और साँस लेने के व्यायाम की भी सलाह दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: