18+ सेलिब्रिटी स्कैंडल्सअंतर्राष्ट्रीयआपदाकमाईकेंद्रकोविड-19क्राइमट्रैवलडार्क न्यूज़नुजहत अशरफी - रायपुर शहरी/ग्रामीणबाज़ारबिज़नेसभाजपाभारतयूरोपराजनीतिवर्ल्ड
Trending

कोविशील्ड वैक्सीन की निर्माता सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया, वैक्सीन के लिए देश के ताकतवर लोग धमका रहे हैं।

newsmrl.com adaar poonawala threat by politician update by Nujhat parveen

कोरोना रोधी वैक्सीन कोविशील्ड की निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने खुद बताया है कि उन्हें वैक्सीन के लिए देश के ताकतवर लोग धमका रहे हैं।

इसलिए वे अभी ब्रिटेन से भारत नहीं लौटेंगे। देश में महामारी थम नहीं रही है, टीकों की किल्लत हो रही है, इस बीच वैक्सीन के लिए दबाव बनाने और धमकी भरे फोन करने के मामले का सामने आना चिंता पैदा करने वाला है। केंद्र ने उन्हें हाल ही में वाई श्रेणी की सुरक्षा दी है।

हाल ही में अदार पूनावाला को केंद्र सरकार ने वाय श्रेणी की सुरक्षा भी मुहैया कराई है। केंद्र द्वारा वाय श्रेणी की सुरक्षा दिए जाने के बाद अपनी पहली टिप्पणी में अदार पूनावाला ने लंदन के अखबार ‘द टाइम्स’ के साथ बातचीत में कहा कि कोविशील्ड वैक्सीन की आपूर्ति की मांग को लेकर भारत के सबसे शक्तिशाली लोगों में से कुछ ने उनसे फोन पर आक्रामक बातें की हैं। उनके पास मुख्यमंत्रियों, व्यावसायिक महारथियों जैसे लोगों के आक्रामक फोन आ रहे हैं और उन्हें कोविशील्ड की तत्काल आपूर्ति के लिए कहा जा रहा है।

पत्नी-बच्चों के साथ लंदन आ गए
अदार पूनावाला ने बताया कि इस दवाब के चलते ही वह अपनी पत्नी और बच्चों के साथ लंदन आ गए हैं। बता दें, सीआईआई भारत में ऑक्सफोर्ड/एस्ट्राजेनका की कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड वैक्सीन का उत्पादन कर रही है। भारत में जारी टीकाकरण में अभी कोविशील्ड व भारत बॉयोटेक की कोवैक्सीन को ही मुख्य रूप से इस्तेमाल किया जा रहा है।

उन्होंने कहा, ‘लोगों की उम्मीद और उग्रता का स्तर वास्तव में अभूतपूर्व है। यह बहुत अधिक है। सभी को लगता है कि उन्हें वैक्सीन मिलनी चाहिए। वे समझ नहीं सकते कि उनसे पहले किसी और को यह क्यों मिलनी चाहिए।’ उन्होंने साक्षात्कार में संकेत दिया कि उनकी लंदन यात्रा भारत के बाहर वैक्सीन निर्माण बढ़ाने की व्यावसायिक योजनाओं से भी जुड़ी हुई है, और लंदन उनकी पसंद में शामिल हो सकता है। जब उनसे भारत के बाहर वैक्सीन उत्पादन के ठिकानों के बारे में पूछा गया, तो पूनावाला ने कहा कि ‘अगले कुछ दिनों में एक घोषणा होने जा रही है।’ पूनावाला ने कहा, ‘हम वास्तव में सभी की मदद के लिए काम कर रहे हैं।’

पूनावाला ने ब्रिटिश समाचार पत्र से कहा, ‘मैं यहां (लंदन) तय समय से अधिक रुक रहा हूं, क्योंकि मैं उस स्थिति में वापस नहीं जाना चाहता। सब कुछ मेरे कंधों पर पड़ गया है, लेकिन मैं इसे अकेले नहीं कर सकता। मैं ऐसी स्थिति में नहीं रहना चाहता, जहां आप सिर्फ अपना काम करने की कोशिश कर रहे हों, और सिर्फ इसलिए कि आप हर किसी की जरूरत को पूरा नहीं कर सकते, आप अंदाजा नहीं लगा सकते कि बदले में वे क्या करेंगे।’

भारत सरकार के अधिकारियों के अनुसार पूनावाला को संभावित खतरों को देखते हुए सुरक्षा दी गई है। देश में किसी भी जगह उनके साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवान उनकी सुरक्षा में होंगे। इनमें 4-5 कमांडो होंगे।

अदार पूनावाला ने कहा कि उन्होंने कहा कि मुझे नहीं लगता कि भगवान को भी अंदाजा होगा कि हालात इतने खराब होने वाले हैं। मुनाफाखोरी के आरोप को उन्होंने पूरी तरह से गलत बताया और कहा कि कोविशील्ड अभी भी दुनिया की सबसे सस्ती वैक्सीन है। हमने कुछ भी गलत या मुनाफाखोरी नहीं की है। मैं प्रतीक्षा करूंगा कि इतिहास हमारे साथ न्याय करे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: