Mamta Sharmanewsmrlकेंद्र शासित राज्यजम्मू कश्मीरभारतसरकारी तंत्र
Trending

आतंकियों के पास फिर पहुंचीं स्टील की गोलियां, सुरक्षा बल अलर्ट

newsmrl.com security force alert news update by kiran rawat

Order No. 0356#RPR

पिछले सप्ताह दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले के रावलपोरा में सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए जैश कमांडर आतंकी विलायत हुसैन उर्फ सज्जाद अफगानी के पास से मिली चीन निर्मित स्टील की 36 गोलियों ने सुरक्षाबलों के कान खड़े कर दिए हैं।

इसके बाद सुरक्षा बलों ने अपने वाहनों, बंकरों और जवानों की बुलेट प्रूफिंग क्षमता को और मजबूत किया है। स्टील की यह गोलियां सामान्य बुलेफ प्रूफ वाहनों और जवानों की बुलेट प्रूफ जैकेट को भेदने की क्षमता रखती हैं।

अधिकारियों ने बताया कि विशेष रूप से दक्षिण कश्मीर में अब जो वाहन और जवान तैनात किए जा रहे हैं उनमें सुरक्षा की एक परत और बढ़ा दी गई है। सामान्य तौर पर एके सीरीज राइफल्स में इस्तेमाल होने वाली गोलियां व अन्य विस्फोटक पर चीनी तकनीक से हार्ड स्टील कोर की परत चढ़ाई जा रही है। इससे गोलियों में भेदने की क्षमता बढ़ जाती है। हाल ही में जैश कमांडर सज्जाद अफगानी के पास से मिले कारतूस जिसे आर्मर पियर्सिंग (एपी) कहा जाता है, कठोर स्टील या टंगस्टन कार्बाइड से निर्मित पाए गए हैं।

2017 में सामने आया था पहला मामला…
स्टील से बने कारतूसों के इस्तेमाल की पहली घटना वर्ष 2017 के नए साल की पूर्व संध्या पर सामने आई थी, जब जैश आतंकियों ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले के लेथपोरा में सीआरपीएफ कैंप पर आत्मघाती हमला किया था। इस हमले में पांच जवान शहीद हो गए। यह सभी जवान बुलेट प्रूफ जैकेट पहने थे, उसके बावजूद उनकी जान नहीं बच सकी थी। अधिकारियों ने कहा कि आतंकी संगठन जैश के असलहे में एम-4 कारबाइन और स्टील की गोलियां भी शामिल हैं। इन गोलियों में आतंकवाद विरोधी अभियानों के दौरान उपयोग किए जाने वाले बुलेट प्रूफ बंकरों को भेदने की क्षमता है।

अंतिम बार 2019 में आतंकियों ने किया था इस्तेमाल…
आतंकियों ने स्टील की गोलियों का कश्मीर घाटी में अंतिम बार जून 2019 में अनंतनाग में आत्मघाती हमले के दौरान प्रयोग किया था, जिसमें सीआरपीएफ के पांच जवान और जम्मू-कश्मीर के एक पुलिस निरीक्षक की जान चली गई थी। सभी शहीद जवानों ने बुलेट प्रूफ जैकेट्स पहन रखे थे लेकिन उनकी जान नहीं बच पाई थी।


चीन बनाता है स्टील की गोलियां…

स्टील के इन कारतूसों पर पूरी दुनिया में प्रतिबंध है, लेकिन चीन इसका निर्माण करता है और वहीं से पाकिस्तान के रास्ते यह खतरनाक कारतूस आतंकियों तक पहुंचते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: