newsmrlकरन रॉय UP/BIHAR/UK/JHकांग्रेसटीएमसीबंगालभाजपामध्प्रदेशराजनीतिसेलिब्रिटी न्यूज़
Trending

शिवराज ने बताया ‘DIDI’ का अलग मतलब, कहा..

newsmrl.com bangal election update by kiran rawat

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव होने में अब सिर्फ कुछ ही दिन बचे हैं। इस बार के विधानसभा चुनाव में भाजपा ने पश्चिम बंगाल में अपनी सारी ताकत झोंक दी है।

प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के अलावा भाजपा के कई मुख्यमंत्री भी लगातार बंगाल के दौरे पर हैं और वहां चुनावी जनसभाओं को संबोधित भी कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल में आयोजित एक चुनावी रैली में मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दीदी शब्द का अलग ही मतलब बता दिया। ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को बंगाल के लोग दीदी कहकर ही बुलाते हैं।

पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में आयोजित एक चुनावी रैली के दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मुझे तो DIDI शब्द का कुछ अलग ही मतलब पता चलता है। आगे उन्होंने कहा कि पहले डी का मतलब डिक्टेटर(तानाशाह) है। फिर आई का मतलब इनसेंसिटिव (असंवेदनशील) है और दुसरे डी का मतलब डीड(भय पैदा करने वाला) और अंतिम आई का मतलब इनकॉम्पिटेंट(अयोग्य) है। साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे तो दीदी का यही मतलब समझ में आता है।

शिवराज चौहान ने दीदी शब्द का मतलब समझाते हुए कहा कि तानाशाह दीदी और टीएमसी के गुंडों को कहना चाहता हूं कि भले ही रात तुम्हारी हो लेकिन सुबह हमारी होगी। साथ ही शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मैं TMC के गुंडों को चेतावनी देता हूं कि 2 मई को ममता बनर्जी गई, एक-एक गुंडों को सबक सिखाया जाएगा। हम TMC के गुंडों को नहीं छोड़ने वाले हैं। ये हिंसा, आतंक, जंगलराज को भाजपा चलने नहीं देगी। पश्चिम बंगाल को बर्बाद कर दिया गया है।

आगे शिवराज ने ममता बनर्जी पर मां, माटी, मानुष के नारे को लेकर भी निशाना साधा। शिवराज ने कहा कि ममता बनर्जी बात करती हैं मां, माटी, मानुष की लेकिन आप(ममता बनर्जी) ने मां को अपमानित करने का काम किया। शर्म नहीं आती आपको ममता बनर्जी। आप ने माटी को खून से रंगा है। मानुष को आप ने मारा है। हम समझते थे कि दीदी का मतलब ममता की मूर्ति होती है। ममता बनर्जी तो निर्मम हो गई हैं।

इसके अलावा उन्होंने कहा कि यहां TMC ने गुंडागर्दी की राजनीति की है, बम और बंदूक की राजनीति की है। याद रखना 2 मई आई, दीदी गई, भाजपा आई। जैसे ही भाजपा आई बम और बंदूक की राजनीति समाप्त कर दी जाएगी। बता दें कि पश्चिम बंगाल की 294 सदस्यों वाली विधानसभा सीट के लिए आठ चरणों में वोटिंग होगी। वोटिंग 27 मार्च से लेकर 29 अप्रैल तक चलेगी और मतगणना 2 मई को की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: