newsmrlआकांक्षा तिवारी CG/MPक्राइमराजस्थान
Trending

जस्टिस फॉर आयशा :आरोपी पति राजस्थान के पाली से गिरफ्तार

newsmrl.com crime update by akanksha

अहमदाबाद में साबरमती नदी में तीन दिन पहले कूदकर खुदकुशी करने वाली 23 साल की आयशा का पति राजस्‍थान के पाली से सोमवार रात गिरफ्तार कर लिया गया।

आयशा ने सुसाइड से पहले एक वीडियो मैसेज रिकॉर्ड किया था। माता-पिता से उसकी आखिरी बातचीत का ऑडियो भी सामने आया था, जिसमें आयशा ने पति पर शोषण करने का आरोप लगाया था।

शादी समारोह से भाग निकला था आरिफ
आयशा का पति आरिफ राजस्थान के जालौर का रहने वाला है। शनिवार को आयशा का वीडियो मैसेज वायरल हुआ था। इसके बाद गुजरात पुलिस जालौर में आरिफ के घर पहुंची तो परिवार वालों ने बताया कि वह एक शादी में गया था और वहीं से कहीं चला गया। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरोपी को सोमवार रात पाली से अरेस्ट कर लिया गया।

आयशा अहमदाबाद के रिलीफ रोड पर स्थित एसवी कॉमर्स कॉलेज में इकोनॉमिक्‍स से एमए कर रही थी। साथ ही एक प्राइवेट कंपनी में जॉब करती थी। उसकी शादी आरिफ से 6 जुलाई 2018 को हुई थी। 10 मार्च 2020 से आयशा मायके में रह रही थी। उसने आरिफ पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था।
आयशा के पिता लियाकत अली ने बताया कि मेरी बेटी आयशा हंसमुख थी, लेकिन निकाह के बाद से ही दहेज को लेकर उसकी जिंदगी नर्क बना दी गई थी। एक बार तो ससुराल वालों ने उसे तीन दिन तक खाना तक नहीं दिया था। वह मुझे फोन कर अपनी परेशानी न बता दे, इसलिए आरिफ ने उसका मोबाइल फोन तक छीन लिया था। किसी तरह आयशा ने अपने एक पड़ोसी के मोबाइल से मुझे कॉल कर रोते हुए कहा था ‘पापा ये लोग मुझे अब खाना तक नहीं दे रहे हैं’।

लियाकत ने बताया कि इसके बाद वे तुरंत आयशा को मायके ले आए थे और पति आरिफ, सास-ससुर और उसकी ननद के खिलाफ घरेलू हिंसा का केस दर्ज कराया था। आयशा ने अपने वीडियो में मुझसे इसी मामले को वापस लेने की मांग की थी, लेकिन मैं अपनी बेटी के हत्यारों को कभी माफ नहीं करने वाला।

इस बारे में गुजरात बार काउंसिल के मेंबर गुलाब खान पठान का कहना है कि आयशा का केस बेहद दुखद है। कानून के अनुसार, यह मामला आईपीसी की धारा 306 के अंतर्गत आता है, इसलिए मेरा मानना है कि आरोपी को सजा तो निश्चित ही होगी। संयोगवश कोई गवाह अपने बयान से पलट भी जाए तो आयशा का आखिरी वीडियो उसके डाइंग डिक्लेरेशन के रूप में कंसीडर कर आरोपी को सजा दी जा सकती है। इस केस में फास्टट्रैक केस चलाकर आरोपी को सजा दी जानी चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: