newsmrlआकांक्षा तिवारी CG/MPचिकित्सा तंत्रछत्तीसगढ़दुर्गबिलासपुररायपुर ग्रामीणरायपुर शहरलाइफस्टाइलसक्सेस स्टोरीसेलिब्रिटी इंटरव्यूसेलिब्रिटी न्यूज़सेलिब्रिटी लाइफ़स्टाइलसेलिब्रिटी सोशल वर्क
Trending

विलक्षण हृदय की बीमारी से ग्रसित मरीज का एसएमसी हॉस्पिटल में सफलतापूर्वक सर्जरी किया गया

newsmrl.com health update by Akanksha tiwari

  • [8:04 PM, 2/18/2021] Editor Raipur Zone Akanksha Tiwari: एसएमसी हॉस्पिटल ने पूरे किये शानदार तीन साल।
  • विलक्षण हृदय की बीमारी से ग्रसित मरीज का एसएमसी हॉस्पिटल में सफलतापूर्वक सर्जरी किया गया

रायपुर स्थित एसएमसी हार्ट एंड आईवीएफ रिसर्च सेंटर ने आज अपने तीन वर्ष पूरे कर लिये हैं।इस उपलक्ष्य में एसएमसी हॉस्पिटल में पूरे स्टॉफ के लिए एक खास आयोजन किया गया।

इस अवसर पर एसएमसी हॉस्पिटल प्रबंधन और डायरेक्टर डॉक्टर सतीश सूर्यवंशी द्वारा एक मानसिक रूप से डिसेबल बच्चों की सहायता व देखभाल करने वाली संस्था में जा कर वहां के बच्चों की स्वास्थ्य जांच, कपड़े फल, मिठाई एवं दवा वितरण भी किया गया।


हॉस्पिटल के डायरेक्टर एवं प्रसिद्ध कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. सतीश सूर्यवंशी एवं उनकी धर्म पत्नी डॉ. प्रज्ञा सूर्यवंशी( स्त्री रोग विशेषज्ञ)ने इस कार्यक्रम की मेजबानी की।
इस खास कार्यक्रम की शुरुआत केक काटकर किया गया।केक काटने के लिए डॉ.सतीश सूर्यवंशी ने रायगढ़ से इलाज करवाने आए हार्ट मरीज इंद्रजीत यादव को आमन्त्रित किया।कुछ दिनों पहले ही एसएमसी हॉस्पिटल में इंद्रजीत यादव की सफल हार्ट सर्जरी की गई है।

की उम्र मात्र 23 वर्ष है और वह एक विलक्षण तरह की हृदय की बीमारी से ग्रसित थे जो लाखों में किसी एक को होती है, जिसकी वजह से उन्हें हार्ट अटैक आ रहा था जिसका एसएमसी हॉस्पिटल में सफलतापूर्वक सर्जरी किया गया, उनसे बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि इस हॉस्पिटल में डॉक्टरों तथा स्टॉफ का अपनापन मिलता है। सब उनका बहुत ख्याल रखते हैं।
और आज कार्यक्रम में केक कटिंग हेतु आमन्त्रित कर मुझे सम्मानित महसुस कराया। मैं बहुत खुश हूँ।


कार्यक्रम को सम्बोन्धित करते हुए डॉ.सतीश सूर्यवंशी ने सभी स्टॉफ को इस सफलता के लिए बधाई दी और उन्हें इस हॉस्पिटल का पिल्लर बताते हुए उनके अच्छे व्यवहार के लिये उनकी तारीफ भी की।


उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि-मरीज अपनी तकलीफों से परेशान रहता है,उनके साथ अच्छा व्यवहार करना उनका खयाल रखना हमारा फर्ज है।हमें सबके साथ वैसा व्यवहार करना चाहिए जो हम स्वयं के लिए अपेक्षा रखते हैं।


गौरतलब है कि कोरोनकाल में एसएमसी हॉस्पिटल को कोविड हॉस्पिटल में तब्दील नही करवाया गया था ताकि हार्ट पेशेंट्स को कोरोना संक्रमण से बचाया जा सके।और उनकी सही से देखभाल हो सके।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: