Pooja Goswamiक्राइमजयपुरराजस्थान
Trending

जयपुर के SMS अस्तपताल में मृतक मरीज के परिजनों ने नर्सिंग कर्मचारी को पीटा, 5 घण्टे तक कर्मचारियों ने किया काम का बहिष्कार

newsmrl.com jaipur update by Cherry Goswami

Order No. 0356#RPR

[10:09 pm, 04/01/2021] Reporter Cherry rajasthan: जयपुर के SMS अस्तपताल में मृतक मरीज के परिजनों ने नर्सिंग कर्मचारी को पीटा, 5 घण्टे तक कर्मचारियों ने किया काम का बहिष्कार

जयपुर के SMS अस्पताल के ट्रोमा सेंटर में नर्सिंग कर्मचारियों के साथ मारपीट हुए, जिसके कारण अस्पताल के सभी नर्सिंग कर्मचारियों ने सोमवार को कार्य का बहिष्कार कर दिया, जिसके कारण मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ा। लगभग 5 घंटे बाद प्रशासन की ओर से मिले आश्वासन के बाद नर्सिंगकर्मी काम पर लौटे।

जानकारी के मुताबिक टोंक रोड स्थित SMS अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में सुबह तड़के एक मरीज की मौत हो गई, जिसके बाद मृतक मरीज के परिजन और उसके साथ करीब 10-15 युवक अस्पताल पहुंच गए, जहां उनकी नर्सिंग स्टाफ से पहले जबरदस्त बहस हुई और फिर गुस्साए युवकों ने नर्सिंगकर्मी मुनीराज के साथ मारपीट शुरू कर दी और उसे लात-घूंसों से पीटा, जिससे वह बुरी तरह घायल हो गया। घटना को देख वार्ड में भर्ती मरीजों व अन्य नर्सिंगकर्मियों में दहशत फैल गई।

युवक यहीं नहीं रूके और उन्होने वार्ड में रखे सामान, दवाईयां तक जमीन पर गिरा दिए और दरवाजे-खिड़कियों के शीशे तोड़ दिए। घटना के बाद जैसे-तैसे कर वहां मौजूद अन्य नर्सिंग कर्मचारियों और सुरक्षा गार्डों ने बीच-बचाव किया। इस दौरान नर्सिंगकर्मी मुनिराज को काफी चोटें भी आई। इस घटना के बाद आक्रोशित नर्सिंग कर्मचारियों ने कार्य बहिष्कार कर दिया।

घटना के बाद चिकित्सा मंत्री रघु शर्मा ने भी फोन कर एसएमएस अस्पताल अधीक्षक से मामले की पूरी जानकारी ली और इस पर सख्त एक्शन लेने के निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने कहा कि आगे से इस तरह की घटनाओं वापस न हो इसके लिए सुरक्षा के पूरे इंतजाम किए जाए।

अस्पताल अधीक्षक से वार्ता के लिए पहुंचे नर्सिंगकर्मी

कार्य बहिष्कार के बाद नर्सिंग कर्मचारियों के दल ने SMS अस्पताल के अधीक्षक के चैंबर के बाहर प्रदर्शन किया। नर्सिंग कर्मचारियों की एसोसिएशन के अध्यक्ष प्यारेलाल चौधरी
अस्पताल अधीक्षक से वार्ता के लिए पहुंचे

कार्य बहिष्कार के बाद नर्सिंग कर्मचारियों के दल ने SMS अस्पताल के अधीक्षक के चैंबर के बाहर प्रदर्शन किया। नर्सिंग कर्मचारियों की एसोसिएशन के अध्यक्ष प्यारेलाल चौधरी ने बताया कि नर्सिंग कर्मचारी 24 घंटे अस्पताल में सेवाएं देते हैं। इसके बावजूद अस्पताल प्रशासन की ओर से उनकी सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं। उन्होंने कहा कि पहले भी रेजीडेंट्स डॉक्टर्स और कई नर्सिंग कर्मचारियों से मारपीट हो चुकी है, लेकिन बावजूद उसके सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं हुए हैं। इसी मुद्दे को लेकर नर्सिंग कर्मचारियों की एक टीम अस्पताल अधीक्षक सहित अन्य अधिकारियों से वार्ता करने पहुंची, जहां उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया, तब जाकर कर्मचारी वापस काम पर लौटे।

  • सुरक्षा की मांगों पर बनी सहमती

प्यारेलाल चौधरी ने बताया कि एसएमएस अस्पताल की तर्ज पर ट्रोमा सेंटर के पास भी अशोक नगर थाना पुलिस की एक चौकी खोलने का आश्वासन दिया हैं। इसके अलावा सुरक्षा गार्डो में भूतपूर्व सैनिकों को लगाने और गार्डो की संख्या बढ़ाने की बात प्रशासन ने कही हैं। इसके साथ ही प्रशासन ने मामले की FIR पुलिस थाने में दर्ज करवाने और दोषियों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करवाने की भी बात कही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Dark Mode Available in newsmrl.com में डार्क मोड उपलब्ध है
%d bloggers like this: